Big Bharat-Hindi News

बांका में आपसी रंजिश का शिकार बना 8वीं का छात्र, चार दिन बाद तालाब में मिला छात्र का शव

बांका:   बिहार के बांका से बड़ी खबर सामने आ रही है जहां   दबंगों ने 8वीं के छात्र को अगवा कर उसे मौत के घाट उतार दिया। चार दिन के बाद अगवा छात्र का शव तालाब से मिलने के बाद इलाके में सनसनी फैल गई।मृतक छात्र की पहचान सिकानपुर गांव निवासी रामदेव यादव के 14 वर्षीय बेटे दिलखुश कुमार के रूप में हुई है।

Big Bharat ट्वीटर को फॉलो करे

घटना रजौन थाना क्षेत्र के सिकानपुर गांव की है। पुलिस ने बुधवार की संध्या ग्रामीणों की सूचना पर शव को  सिकानपुर गांव स्थित तालाब से बरामद किया । शव मिलने के  बाद परिजनों में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है दिलखुश कुमार का अपहरण का आरोप गांव के ही चार लोग पर लगा था।

पुरानी रंजिश का मामला

पुरानी रंजिश को लेकर बीते एक जनवरी को एक जनवरी को गांव के ही अप्पो यादव, निवास यादव, निर्मल यादव, प्रभास यादव रामदेव यादवके घर में घुस गए और परिवार के लोगों के साथ मारपीट कर जान से मारने की धमकी देकर चले गए। इस घटना के अगले ही दिन यानी दो जनवरी को रामदेव यादव का बेटी दिलखुश घर से अचानक लापता हो गया।

हिंट एंड रन कानून के विरोध में दूसरे दिन भी ट्रक चालकों की हड़ताल, कई राज्यों में चक्का जाम

इसके बाद परिजनों ने सभी संभावित जगहों पर दिलखुश को तलाश की लेकिन उसका कहीं भी पता नहीं चला। इसी बीच बुधवार को दिलखुश का शव गांव के ही पोखर से बरामद हुआ। दिलखुश का शव मिलने की जानकारी मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मच गया।

सूचना  दिए जाने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामले के छानबीन में जुट गई है। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है और परिजनों के बयान पर केस दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *