गया में अपराधियों ने पेट्रोल पम्प और बस फूंक डाला, रात भर पेट्रोल पंप के कर्मी व गांव वाले करते रहे पुलिस का इंतजार

गया: बिहार में आपराधिक गतिविधि थमने के का नाम नहीं ले रहा है। इस बार गया में बेखौफ अपराधियों ने पेट्रोल पंप को फूंक डाला साथ में  स्कूल बस और एक बाइक को भी आग के हवाले कर दिया। दरअसल पूरा विवाद  पेट्रोल भराकर रुपए नहीं देने को लेकर हुआ। बाद में विवाद बढ़ने पर पेट्रोल कर्मियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद उस समय अपराधी चले गए, लेकिन दोबारा लौटे और आग लगा दी।

पूरा मामला मंगलवार रात गया के बांकेबाजार थाना क्षेत्र की है। जहाँ 4 अपराधी बांकेबाजार के तरवन मोड़ के निकट अनन्या पेट्रोल पंप पहुंचे। वहां उन्होंने पहले पेट्रोल भरवाया। पेट्रोल भरवाने के बाद पेट्रोल पंप कर्मियों ने पैसे मांगे तो बाइक सवार अपराधी उलटा केके टाइगर के नाम रंगदारी मांगने लगे। इस पर पेट्रोल कर्मी व अपराधियों के बीच बहस होने लगी। मारपीट की भी नौबत आ गई।

यह भी पढ़े: समस्तीपुर : छेड़छाड़ से परेशान होकर चलती ट्रेन से कूदी छात्रा, बोली – लड़के यहाँ वहां छू रहे थे, जिससे परेशान होकर कूदना ही सही समझा

जिसके बाद  पेट्रोल कर्मियों ने पुलिस व आसपास के ग्रामीणों को सूचना दे दी। तब   अपराधी वहां से हथियार का भय दिखा कर आमस थाना क्षेत्र डेल्हो महापुर रोड की ओर भागने लगे। हालांकि ग्रामीणों ने डेल्हो महापुर रोड पर बोल्डर डाल कर अपराधियों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन अपराधी बाइक छोड़ कर भाग गए। भागने के दौरान किसी एक अपराधी का कट्‌टा सड़क के किनारे गिर गया।

तूफ़ान से पहले की शांति

इस मामले के बाद पुलिस और ग्रामीणों ने सोचा अपराधी डर कर भाग गए है। लेकिन ये तूफ़ान से पहले की शांति थी। करीब डेढ़ बजे रात को एक बार फिर वही अपराधी पूरी तैयारी के साथ आए और पेट्रोल पंप के चार नोजल में एक साथ आग लगा दी। पेट्रोल पंप पर खड़ी एक बस और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया।

कुछ ही दूरी पर  थाना

पूरा पेट्रोल पंप धूं-धूं कर जल गया और बड़े ही इत्मीनान से अपराधी मौके से भाग गए जबकि घटना स्थल से कुछ ही दूरी पर बांकेबाजार थाना स्थित है। पेट्रोल पंप के सभी चार नोजल पंप जल कर राख हो गए हैं। किसी तरह से पेट्रोल कर्मियों व ग्रामीणों ने आग पर पानी व रेत और आग बुझाने वाले उपकरण की मदद से आग पर काबू पाया। रात भर पेट्रोल पंप के कर्मी और उसके मालिक व गांव वाले पुलिस का इंतजार करते रहे पर मौके पर कोई नहीं पहुंचा। सुबह बांकेबाजार पुलिस सक्रिय हुई।

रंगदारी नहीं देने पर करते है आगजनी

आसपास के लोगों के मुताबिक ये वही अपराधी है, जो तीन दिन से क्षेत्र में रंगदारी मांग रहे हैं। नहीं देने पर आगजनी कर रहे हैं। पुलिस सिर्फ पड़ताल में ही उलझी है। इधर, थानाध्यक्ष कुमार सौरभ का कहना है कि घटना क्षेत्र के अपराधियों ने दिया है। इसका सुराग मिला है। इसके अलावा अन्य ठोस जानकारियां भी मिली हैं। पुलिस काम कर रही है। सफलता मिलते ही आगे की जानकारी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.