कांग्रेसी MLA कुमार जयमंगल सिंह का दावा: पकडे गए तीनो विधायक CM हिमंत बिस्वा सरमा से मिलने जा रहे थे, 10 करोड़ में डील का दावा

  • कुमार जयमंगल सिंह का दावा: विधायकों को CM हिमंत बिस्वा सरमा से मिलने के लिए कोलकाता बुलाया गया था।
  • 10 करोड़ में डील का दावा
  • लोकतंत्र के दिल पर प्रहार करती है
  • तीनो विधायक का मेडिकल परिक्षण के बाद कोर्ट में होगी पेशी 

राँची: झारखंड में बेरमो निर्वाचन क्षेत्र के कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने हावड़ा में भारी मात्रा में कैश के साथ पकड़े गए कांग्रेस के तीनो विधायकों के खिलाफ शिकायत पत्र लिखा है  साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि तीनों ने उन्हें गुवाहाटी ले जाने और CM हिमंत बिस्वा सरमा से मिलने के लिए कोलकाता बुलाया था।

48 लाख कैश मिले

दरअसल पश्चिम बंगाल में झारखंड कांग्रेस के तीन विधायकों को 48 लाख कैश के साथ पकड़ा गया था। जिसके बाद कांग्रेस पार्टी ने तीनों विधायकों को सस्पेंड कर दिया है। कांग्रेस पार्टी का कहना है कि बीजेपी का ‘ऑपरेशन लोटस’ बेनकाब हुआ है। इस मामले में कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने बड़ा दावा किया है।

ऑपरेशन लोटस हुआ बेनकाब

बेरमो सीट से कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने दावा किया है कि पकड़े गए तीनों विधायक असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा से मिलने जा रहे थे कुमार जयमंगल सिंह ने तीनों विधायकों के खिलाफ शिकायत पत्र लिखते हुए दावा किया कि राजेश कच्छप और इरफान अंसारी ने मुझे कोलकाता बुलाया था और यहां से वे मुझे असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा से मिलाने के लिए गुवाहाटी ले जाने वाले थे।

10 करोड़ में डील का दावा

उन्होंने कहा कि हिमंत  बिस्वा ने कथित तौर पर झारखंड सरकार गिराने के बाद बनने वाली नई सरकार में हर विधायक को मंत्री पद और हर विधायक को 10 करोड़ रुपये का आश्वासन दिया था. उन्होंने कहा कि ये तीनों विधायक असम ही जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही गिरफ्तार हो गए। उन्होंने कहा कि हमें भी इसका ऑफर मिला था।

यह भी पढ़े: कोलकाता पुलिस ने झारखण्ड कांग्रेस के तीन विधायकों को नोटों के बण्डल के साथ पकड़ा, गुप्त सुचना के आधार पर हुआ खुलासा

लेकिन मैं इस असंवैधानिक, अवैध और सर्वथा आपराधिक गतिविधि का हिस्सा नहीं बनना चाहता और इसलिए आपको सूचित करता हूं कि कृपया उनके खिलाफ कार्रवाई करें जो कोलकाता में टोकन राशि के साथ हैं और मुझ पर कोलकाता आने और उनके साथ गुवाहाटी आने का दबाव बनाते हैं।

लोकतंत्र के दिल पर प्रहार करती है

चूंकि मैं इस तरह के एक आपराधिक अपराध का हिस्सा नहीं बनना चाहता और ऐसी अनैतिक गतिविधि में लिप्त हूं जो देश के संवैधानिक ढांचे को तोड़ती है, आपसे अनुरोध है कि आप भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम और 120 बी आईपीसी की धारा 7 (सी) के अनुसार कार्रवाई करें और इस तरह की आपराधिक गतिविधि को रोकने के लिए जो लोकतंत्र के दिल पर प्रहार करती है और कानून के प्रावधानों के अनुसार लोगों को मुझे प्रभावित करने के लिए अन्य लोगों के साथ सक्रिय मिलीभगत से, जो वर्तमान सरकार को गिराने के लिए पीछे से काम कर रहे हैं। एक खतरनाक डिजाइन के साथ झारखंड और लोक सेवकों की क्षमता में अपनी स्थिति को प्रभावित करके सभी प्रकार के अवैध तरीके अपना रहे हैं।

तीनो विधायक का मेडिकल परिक्षण

फिलहाल कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल सिंह की शिकायत पर पुलिस ने 3 विधायकों (इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन बिक्सल कोंगारी) के खिलाफ जीरो FIR दर्ज की है। प्राथमिकी हावड़ा स्थानांतरित की जाएगी जहां तीनों को उनके कब्जे से नकद वसूली के बाद गिरफ्तार किया गया था।, उन्हें पहले मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाया गया और फिर एक अदालत में पेश किया जायेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.