Big Bharat-Hindi News

Lakhimpur Kheri Case: लखीमपुर खीरी में दो सगी बहनो की हुई हत्या, पुलिस ने 6 आरोपियों को किया गिरफ्तार,

Lakhimpur Kheri Case  में 6 आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार इन पर इन पर पाक्सो एक्ट के तहत रेप और हत्या का धारा लगाया गया है।

उत्तर प्रदेश: (Lakhimpur Kheri Case) यूपी के लखीमपुर खीरी जिले के निघासन थाना इलाके के एक गांव में बुधवार शाम करीब छह बजे दो सगी बहनों के शव पेड़ से लटके पाए गए । शव मिलने के बाद गुस्साए परिजनों ने ग्रामीणों के साथ सदर चौराहे पर जाम लगा दिया। बताया जा रहा है दोनों बहने दलित वर्ग की थी। इस मामले में पुलिस ने 6 आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान छोटू, सुहैल, जुनैद, हाफिज और हफीजुल के तौर पर हुई है। इस मामले में लखीमपुर खीरी के एसपी ने कहा कि लड़कियों के साथ रेप के बाद उनकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई। इन पर पाक्सो एक्ट के तहत रेप और हत्या का धारा लगाया गया है।

जबरन बाइक पर बैठाकर ले भागे

मृत लड़की के मां के मुताबिक दोनों नाबालिग बेटियां घर के बाहर लगी मशीन पर चारा काटने गईं थी। शाम करीब पांच बजे पड़ोसी गांव के तीन युवक बाइक पर सवार होकर आए और दोनों को जबरन बाइक पर बैठाकर भागने लगे। मां ने शोर मचाते हुए बाइक सवारों का पीछा किया, लेकिन वे उन्हें धक्का देकर भाग निकले। शोर सुनकर गांव वाले भी इकट्ठा हो गए और आरोपियों की तलाश शुरू की। करीब एक घंटे बाद गांव के ही एक व्यक्ति के खेत में उनका शव  पेड़ से लटका मिला।

Big Bharat  ट्वीटर को फॉलो करे

एक घंटे पहले जिंदा बेटियों को देखी थी लेकिन  पौन घंटे के बाद बेटियों का शव देखकर  परिजन पछाड़ खाकर वहीं गिर गए, जिस पर ग्रामीणों ने गमछे से उनको हवा की। रोते बिलखते मां ने बताया कि पड़ोस के गांव के तीन युवक उसके घर के आसपास से निकलते रहते थे, लेकिन कभी उसको अंदाजा नहीं था कि तीनों बेटी को अगवाकर मार डालेंगे।

अहमदाबाद में बड़ा हादसा: निजी बिल्डिंग में लिफ्ट टूटने से 7 लोगो की मौत, एक हुआ घायल, ज्यादा वजन होने से हुआ हादसा

यह हत्याकांड ‘हाथरस की बेटी’ हत्याकांड की पुनरावृत्ति है

इस मुद्दे पर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने राज्य सरकार को घेरा। अखिलेश यादव ने इस घटना की तुलना हाथरस कांड से करते हुए ट्वीट किया, ‘निघासन पुलिस थाना क्षेत्र में दो दलित बहनों को अगवा करने के बाद उनकी हत्या और उसके बाद पुलिस पर पिता का ये आरोप बेहद गंभीर है कि बिना पंचनामा और सहमति के उनका पोस्टमॉर्टम किया गया. लखीमपुर में किसानों के बाद अब दलितों की हत्या ‘हाथरस की बेटी’ हत्याकांड की जघन्य पुनरावृत्ति है।’

टीवी में झूठे विज्ञापन देने से कानून व्यवस्था अच्छी नहीं हो जाती

वही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने कहा, ‘लखीमपुर में दो बहनों की हत्या की घटना दिल दहलाने वाली है। परिजनों का कहना है कि उन लड़कियों का दिनदहाड़े अपहरण किया गया था। रोज अखबारों व टीवी में झूठे विज्ञापन देने से कानून व्यवस्था अच्छी नहीं हो जाती. आखिर उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराध क्यों बढ़ते जा रहे हैं? कब जागेगी सरकार?’

Leave a Reply

Your email address will not be published.