Priyanka  Gandhi को पुलिस ने किया गिरफ्तार, महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा घेड़ा को तोडा

Priyanka  Gandhi  और राहुल गाँधी को पुलिस ने हिरासत में लिया, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी प्रदर्शन में  शामिल हुई 70 साल में देश बना, लेकिन बीजेपी ने 8 साल में इसे खत्म कर दिया: राहुल गाँधी

नई दिल्ली: आज दिन भर महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन जारी रहा । कांग्रेस नेताओ और कार्यकर्ताओ ने महंगाई के खिलाफ जमकर हल्ला बोला।  इस बीच कांग्रेस लीडर प्रियंका गांधी और पुलिस के बीच धक्कामुक्की हुई। प्रियंका गाँधी वाड्रा ने कांग्रेस दफ्तर के बाहर सुरक्षा घेरे को तोड़ दिया और वो बैरिकेड के ऊपर चढ़ कर दूसरी तरफ पहुंच गई।

प्रियंका गाँधी और राहुल गाँधी को पुलिस ने हिरासत में लिया

जिसके बाद  महिला पुलिस कर्मियों ने उन्हें घेर लिया। फिर वो सड़क पर ही धरने पर बैठ गई। बाद में उन्हें हिरासत में ले लिया गया है। ये सारी घटना कांग्रेस दफ्तर के बाहर हुई। प्रियंका गांधी के भाई और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को भी हिरासत में लिया गया है। राहुल गांधी की अगुवाई में ही कांग्रेस सांसदों ने संसद भवन से राष्ट्रपति भवन के लिए मार्च निकाला। हालांकि पुलिस ने उन्हें बीच में ही रोक दिया और हिरासत में ले लिया।

 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी शामिल हुई

बता दे कांग्रेस  महंगाई और रोजमर्रा के सामानों की बढ़ती कीमतों को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन कर रही है। विरोध प्रदर्शन के दौरान सभी कांग्रेसी नेता काले कपडे में नजर आये । कांग्रेस के इस विरोध प्रदर्शन की शुरुआत राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस से हुई। संसद भवन से पार्टी सांसदों का मार्च शुरू होने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी इसमें थोड़ी देर के लिए शामिल हुईं।

 

70 साल में देश बना, लेकिन बीजेपी ने 8 साल में इसे खत्म कर दिया: राहुल गाँधी

इस दौरान राहुल गांधी ने कहा, ‘आज देश में लोकतंत्र नहीं है। सिर्फ तानाशाही है। हम महंगाई का मुद्दा उठाते हैं। हमें संसद में बोलने नहीं दिया जाता। बाहर प्रदर्शन करने पर गिरफ्तार कर लिया जाता है।’ इस बीच कुछ प्रदर्शनकारियों को पहले ही पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। राहुल गांधी ने कहा, ’70 साल में देश बना, लेकिन बीजेपी ने 8 साल में इसे खत्म कर दिया। चाहें बेरोजगारी, हिंसा और महंगाई का मुद्दा हो, सरकार का सिर्फ यही एजेंडा है, कि इन मुद्दों का न उठाया जाए।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.