कूड़े में PM मोदी और CM योगी की तस्वीर मिलने पर सफाई कर्मी की गयी नौकरी , सफाई कर्मी बोला- मेरी 3 लड़कियां हैं, क्या उन्हें जहर दे दूं।”

कूड़े में PM मोदी और CM योगी की तस्वीर मिलने पर सफाई कर्मी को नौकरी से निकाला, सफाई कर्मी बोला मेरी 3 लड़कियां हैं, उन्हें कहां से खिलाऊंगा क्या उन्हें जहर दे दूं।”

लखनऊ: UP में PM मोदी और CM योगी की तस्वीर कूड़े में मिलने पर सफाई कर्मी को नौकरी से निकालने की खबर सामने आयी है। जहां दलित सफाई कर्मी को किसी और की गलती की वजह से नौकरी से हाथ धोना पड़ गया। जिसके बाद से बॉबी वाल्मीकि के सिर पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। उनकी गलती बस इतनी सी थी कि कचरे में किसी अन्य व्यक्ति द्वारा फेंकी गई पीएम मोदी और सीएम योगी की तस्वीर को उठाकर ले जाते समय कुछ लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दी।

अधिकारियों के हाथ-पांव फूले

कूड़े में देश के प्रधानमंत्री मोदी व यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर वायरल होते ही अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। मथुरा के नगर आयुक्त ने वीडियो का संज्ञान लेकर बॉबी की सेवा ही समाप्त कर दी। इस घटना के बाद से सफाईकर्मी तनाव में है। उसे रोजी-रोटी की चिंता सता रही है।

यह भी पढ़े: छत्तीसगढ़ कोर्ट ने 121 आदिवासियों को जेल से रिहा किया, वे 5 सालो से थे जेल में बंद

दरअसल मथुरा वृंदावन नगर निगम कार्यालय के करीब सुभाष इंटर कॉलेज के समीप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीरें कूड़े में फेंक दी गईं थी। 16 जुलाई 2022 को नगर निगम में संविदा पर तैनात दलित सफाई कर्मी बॉबी वाल्मीकि ने रोज की तरह कचरा को ठेला गाड़ी में भरा और चल पड़ा।

Big Bharat ट्वीटर को फॉलो करे

इस दौरान अलवर से मथुरा घूमने आए आए श्रद्धालु अमर सिंह ने मथुरा के सुभाष इंटर कॉलेज के पास बॉबी को योगी और मोदी की तस्वीर कचरा गाड़ी में ले जाते हुए देखा। उसने तुरंत उसे रोककर इस घटना को अपने मोबाइल में कैद कर लिया। बाद में यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी डाल दिया। अलवर के अमर सिंह ने दोनों की तस्वीर को कचरा गाड़ी से निकालकर उसे पास में लगे नल के पानी से साफ किया। इसके बाद तस्वीरों को अपनी गाड़ी में रखा और वहां से चले गए।

Big Bharat ट्विटर को फॉलो करे

वीडियो वायरल होने पर मचा हड़कम्प

कूड़े में पीएम और सीएम की तस्वीरें मिलने पर नगर निगम में खलबली मच गई। जिसके बाद नगर निगम सफाई कर्मचारी को निलंबित कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर लोग सफाईकर्मी के हक में खड़े हो गए हैं।

बॉबी ने कहा मेरा कोई कसूर नहीं

बॉबी के अनुसार, “यह तस्वीर मुझे कचरे में पड़ी मिली थी। मुझे बस अपने काम से मतलब था। इसलिए मैंने उसको भी साथ में रख लिया। मुझे नहीं पता था कि मेरे ऐसा करने से मेरी नौकरी चली जाएगी।”

सफाई कर्मचारी बॉबी ने कहा कि, “मैं अनपढ़ हूं। मेरा कोई कसूर नहीं है। मुझे तो सिर्फ काम करना है। संविदा कर्मचारी हूं। मेरी 25 साल की नौकरी है। मैं सीएम योगी से यही चाहता हूं कि मुझे ड्यूटी पर वापस लिया जाए। मेरी 3 लड़कियां है। क्या उन्हें जहर दे दूं। मुझे नौकरी पर वापस लिया जाए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.